आचार्य विद्यासागर गौ संवर्धन योजना 2023: ऑनलाइन आवेदन, पात्रता व विशेषताएं - UP

आचार्य विद्यासागर गौ संवर्धन योजना 2023: ऑनलाइन आवेदन, पात्रता व विशेषताएं

Acharya Vidyasagar Gau Samvardhan Yojana 2023: “मध्य प्रदेश आचार्य विद्यासागर गौ संवर्धन योजना आवेदन फॉर्म भरें – राज्य के बेरोजगार शिक्षित युवाओं को रोजगार संबंधी लाभ प्रदान करने के उद्देश्य से मध्य प्रदेश सरकार ने आचार्य विद्यासागर गौ संवर्धन योजना की शुरुआत की है। यह योजना राज्य के बेरोजगार शिक्षित युवाओं को रोजगार प्रदान करने के लिए है और उन्हें ऋण की सुविधा प्रदान करेगी। इस योजना के माध्यम से मध्य प्रदेश राज्य के शिक्षित नागरिक व्यवसायिक पशुपालन करके अपनी आय बढ़ा सकते हैं। इस लेख में, हम आपको Acharya Vidyasagar Gau Samvardhan Yojana से जुड़ी सभी महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान करेंगे।”[मुख्यमंत्री बालिका स्कूटी योजना की हुई शुरुआत, टॉपर छात्राओं को मिलेगी फ्री स्कूटी]

Acharya Vidyasagar Gau Samvardhan Yojana 2023

“मध्य प्रदेश के शिक्षित बेरोजगार युवाओं को रोजगार संबंधी लाभ प्रदान करने के उद्देश्य से आचार्य विद्यासागर गौ संवर्धन योजना की शुरुआत मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा की गई है। योजना के तहत राज्य के सभी बेरोजगार युवाओं को रोजगार के अवसर प्राप्त होंगे। पशुपालन विभाग द्वारा बैंक से ऋण की सुविधा प्रदान की जाएगी। योजना के अंतर्गत राज्य के बेरोजगार नागरिकों को 10 लाख रुपए तक का ऋण प्रदान किया जाएगा। इस योजना से शिक्षित बेरोजगार युवा को रोजगार शुरू करने के लिए प्रोत्साहित किया जाएगा। इस योजना का लाभ लेने के इच्छुक नागरिक ऑफलाइन माध्यम से आवेदन कर सकते हैं।”

आचार्य विद्यासागर गौ संवर्धन योजना 2023 का उद्देश्य 

“आचार्य विद्यासागर गौ संवर्धन योजना का मुख्य उद्देश्य राज्य के बेरोजगार युवाओं को रोजगार के अवसर प्रदान करना है, साथ ही राज्य के नागरिकों को इस योजना के माध्यम से दुग्ध उत्पादन की प्रति आकर्षित किया जाएगा। इसके अतिरिक्त, राज्य के किसानों को इस योजना के माध्यम से छोटे-बड़े उद्योगों में लाभ प्रदान किया जाएगा। बैंक द्वारा 10 लाख रुपए तक का लोन बेरोजगार शिक्षित युवाओं को रोजगार से जोड़ने के लिए Acharya Vidyasagar Gau Samvardhan Yojana 2023 के तहत प्रदान किया जाएगा। इस योजना के तहत ऋण का लाभ प्राप्त कर राज्य के युवाओं की आय में वृद्धि हो सकेगी तथा सभी हितग्राही युवा नागरिक आत्मनिर्भर और सशक्त बनेंगे, और राज्य की बेरोजगारी दर में भी इस योजना के माध्यम से गिरावट आएगी।”।

आचार्य विद्यासागर गौ संवर्धन योजना के तहत इकाई लागत

  • “2023 में शुरू होने वाली आचार्य विद्यासागर गौ संवर्धन योजना के अन्तर्गत, राज्य के हितग्राही नागरिकों को उनके पास 5 या उससे अधिक पशु होने पर बैंक के माध्यम से 10 लाख रुपए तक का ऋण प्राप्त करने का अवसर मिलेगा।बैंक द्वारा दी जाने वाली ऋण की सुविधा से पात्र नागरिक अपने व्यापकता की 75% राशि तक प्राप्त कर सकते हैं, जबकि बाकी राशि का उपयोग स्वयंसेवा और विभागीय योजनाओं के लिए किया जाएगा।”

Overview of Acharya Vidyasagar Gau Samvardhan Yojana

योजना का नामआचार्य विद्यासागर गौ संवर्धन योजना
आरम्भ की गईमध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा
वर्ष2023
लाभार्थीराज्य के शिक्षित बेरोजगार युवा नागरिक
आवेदन की प्रक्रियाऑफलाइन
उद्देश्यराज्य के बेरोजगार युवाओं को लोन के माध्यम से आर्थिक सहायता प्रदान करना
लाभराज्य के बेरोजगार युवाओं को लोन के माध्यम से आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी
श्रेणीमध्य प्रदेश सरकारी योजनाएं
आधिकारिक वेबसाइट———–

Acharya Vidyasagar Gau Samvardhan Yojana के लाभ और विशेषताएं 

  • “मध्य प्रदेश राज्य के सभी बेरोजगार नागरिकों को रोजगार के अवसर ‘आचार्य विद्यासागर गौ संवर्धन योजना’ के माध्यम से प्रदान किए जाएंगे। इस योजना का लाभ प्राप्त कर नागरिक स्वरोजगार आरंभ करने में सक्षम होने के साथ साथ आत्मनिर्भर बनेंगे। बेरोजगार युवाओं को पशुपालन का कार्य करने के लिए इस योजना के माध्यम से राज्य सरकार द्वारा बैंक के माध्यम से ऋण प्रदान किया जाएगा। इस योजना के तहत जिन युवा नागरिको के द्वारा पशुपालन से सम्बंधित कार्य किया जाएगा, उन सभी नागरिको को 10 लाख रुपए तक का ऋण प्रदान किया जाएगा। राज्य सरकार द्वारा इस योजना के तहत निर्धारित की गई पात्रता को पूर्ण करने वाले बेरोजगार युवा नागरिको के द्वारा इस योजना का लाभ प्राप्त किया जा सकता है। इसके अतिरिक्त राज्य में इस योजना के माध्यम से पशु उत्पादन को बढ़ावा दिया जाएगा, इस योजना के माध्यम से अन्य नागरिक भी पशुपालन संबधी कार्य करने हेतु प्रोत्साहित हो सकेंगे। आचार्य विद्यासागर गौ संवर्धन योजना के आरंभ होने से मध्य प्रदेश राज्य में दूध उत्पादन में बढ़ोत्तरी होगी, इसके अतिरिक्त राज्य के करीब 7500 पशुपालकों को अब तक इस योजना का लाभ प्राप्त हो चुका है। इसके विपरीत राज्य के पशुपालकों को 95 करोड़ रुपए का अनुदान मध्य प्रदेश पशुपालन विभाग द्वारा अब तक प्रदान किया जा चुका है। नुसूचित जाति व अनुसूचित जनजाति को 2 लाख रुपए और सामान्य वर्ग के युवाओं को 1.50 लाख रुपए तक की अनुदान राशि आर्थिक स्थिति में सुधार लाने और रोजगार के अवसर प्रदान करने हेतु इस योजना के माध्यम से माफ़ की जाएगी। इसके अलावा राज्य के शिक्षित युवाओं का इस योजना के राज्य में आरंभ होने से विकास होगा, इसके लिए उन्हें रोजगार के नवीन अवसरों की प्राप्ति होगी। सभी वर्ग के नागरिको के द्वारा इस योजना का लाभ प्राप्त किया जा सकता है, राज्य में इस योजना के माध्यम से दूध उत्पादन वृद्धि होगी, इससे राज्य के नागरिको को शुद्ध दूध प्राप्त होगा।”

आचार्य विद्यासागर गौ संवर्धन योजना 2023 की पात्रता

  • “यह योजना का लाभ प्राप्त करने के इच्छुक नागरिकों को मध्य प्रदेश राज्य के निवासी होना आवश्यक है। इसके अंतर्गत आवेदकों की आयु 18 वर्ष से अधिक होनी चाहिए। राज्य के इच्छुक युवा नागरिकों को कम से कम 5 पशु होने चाहिए, तभी वे इस योजना का लाभ उठा सकते हैं। इसके अलावा, उन युवाओं को जो इस योजना के तहत आवेदन करना चाहते हैं, उनके पास कम से कम 1 एकड़ कृषि भूमि होनी चाहिए। राज्य के सभी वर्गों के नागरिक इस योजना के तहत आवेदन कर सकते हैं।”

Acharya Vidyasagar Gau Samvardhan Yojana के लिए आवश्यक दस्तावेज 

  • राशन कार्ड
  • समग्र आईडी
  • जमीन से संबंधित दस्तावेज
  • मोबाइल नंबर
  • आधार कार्ड
  • निवास प्रमाण पत्र
  • आय प्रमाण पत्र
  • जाति प्रमाण पत्र
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • बैंक खाता विवरण आदि

आचार्य विद्यासागर गौ संवर्धन योजना के तहत आवेदन करने की प्रक्रिया 

“मध्य प्रदेश राज्य के वे सभी बेरोजगार शिक्षित नागरिक जो ‘आचार्य विद्यासागर गौ संवर्धन योजना 2023’ का लाभ प्राप्त करना चाहते हैं, उन सभी नागरिकों को निम्नलिखित प्रक्रिया का पालन करते हुए इस योजना के तहत ऑफलाइन आवेदन किया जा सकता है:”

  • “योजना का लाभ पाने के लिए आपको निम्नलिखित प्रक्रिया का पालन करना होगा:

    1. सबसे पहले, अपने जिले के पशुपालन विभाग/पशु चिकित्सा अधिकारी/पशु औषधालय के प्रभारी/उपसंचालक पशु चिकित्सालय के विभाग में जाना होगा।
    2. अपने राज्य के किसी भी विभाग में जाकर आपको वहां के अधिकारी से ‘आचार्य विद्यासागर गौ संवर्धन योजना 2023’ का आवेदन फॉर्म प्राप्त कर लेना चाहिए।
    3. आवेदन फॉर्म प्राप्त करने के बाद, आपको उसमें पूछी गई सभी जानकारी को सावधानीपूर्वक दर्ज कर देना होगा, और फिर फॉर्म में मांगे गए आवश्यक दस्तावेजों को भी अटैच कर देना होगा।
    4. इसके बाद, आपको यह आवेदन फॉर्म उसी कार्यालय में जमा कर देना होगा जहां से आपने इस आवेदन पत्र को प्राप्त किया है।

    इस प्रक्रिया का पालन करके आप आसानी से ‘आचार्य विद्यासागर गौ संवर्धन योजना’ के तहत ऑफलाइन आवेदन कर सकते हैं।”

Contact Information

“प्रिय पाठकों, इस लेख के माध्यम से हमने आपको ‘आचार्य विद्यासागर गौ संवर्धन योजना’ के सभी महत्वपूर्ण तथ्य प्रदान करने का प्रयास किया है। यदि आप इस योजना से जुड़ी किसी अन्य जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं, तो आप इस योजना के तहत जारी किए गए हेल्पलाइन नंबर या ईमेल आईडी के माध्यम से संपर्क करके अपनी समस्या का समाधान प्राप्त कर सकते हैं।”

  • मध्य प्रदेश संचालनालय पशुपालन एवं डेयरी हेल्पलाइन नम्बर:- 0755-2772262.
  • मध्य प्रदेश संचालनालय पशुपालन एवं डेयरी हेल्पडेस्क ईमेल:- dirveterinary@mp.gov.in.
  • संचालनालय पशुपालन एवं डेयरी, मध्य प्रदेश सरकार,

कामधेनु भवन, वैशाली नगर,

कोटरा, सुल्तानाबाद,

भोपाल – 462003

आचार्य विद्यासागर गौ संवर्धन योजना 2023 के बारे में पूछे जाने वाले कुछ महत्वपूर्ण प्रश्न और उनके उत्तर:

  1. 1. आचार्य विद्यासागर गौ संवर्धन योजना क्या है?
    • उत्तर: आचार्य विद्यासागर गौ संवर्धन योजना 2023 मध्य प्रदेश सरकार द्वारा शुरू की गई एक योजना है जो राज्य के बेरोजगार युवाओं को पशुपालन से जुड़कर रोजगार के अवसर प्रदान करने का उद्देश्य रखती है।
  2. 2. योजना के तहत कौन-कौन से व्यक्ति लाभान्वित हो सकते हैं?
    • उत्तर: योजना का लाभ उन व्यक्तियों को मिलेगा जो मध्य प्रदेश राज्य के निवासी हैं और जिनके पास 5 या उससे अधिक पशु हैं।
  3. 3. योजना के तहत ऋण कैसे प्राप्त किया जा सकता है?
    • उत्तर: इच्छुक उपयोगकर्ता को अपने जिले के पशुपालन विभाग में जाकर आवेदन करना होगा। वहां से आवश्यक दस्तावेजों के साथ ऋण आवेदन पत्र प्राप्त कर सकते हैं और उसे भरकर जमा करना होगा।
  4. 4. आवेदन करने की अंतिम तारीख क्या है?
    • उत्तर: आवेदन की अंतिम तारीख योजना के विवरणों के हिसाब से निर्धारित की जाती है। उपयोगकर्ताओं को निर्धारित समय में आवेदन करना चाहिए।
  5. 5. योजना के तहत किस प्रकार का ऋण प्रदान किया जाता है?
    • उत्तर: योजना के तहत बैंक के माध्यम से उपयोगकर्ताओं को आर्थिक सहायता के रूप में ऋण प्रदान किया जाता है, जो उनके पशुपालन व्यवसाय को बढ़ावा देने में मदद करता है।
  6. 6. योजना के तहत किस प्रकार की वित्तीय सहायता प्रदान की जाती है?
    • उत्तर: योजना के तहत निर्धारित श्रेणियों के व्यक्तियों को आर्थिक सहायता दी जाती है, जो उनकी आर्थिक स्थिति में सुधार लाने और रोजगार के अवसर प्रदान करती है।
  7. 7. योजना के लाभार्थी कितना ऋण प्राप्त कर सकते हैं?
    • उत्तर: योजना के तहत लाभार्थी बैंक के माध्यम से उत्तरदाता बैंक या संबंधित वित्तीय संस्था से अधिकतम 10 लाख रुपए का ऋण प्राप्त कर सकते हैं।
  8. 8. योजना के तहत आवेदन कैसे करें?
    • उत्तर: आवेदन करने के लिए उपयोगकर्ताओं को अपने जिले के पशुपालन विभाग में जाकर योजना के आवेदन फॉर्म को भरना और सम्बंधित दस्तावेजों के साथ जमा करना होगा।

ध्यान दें कि यह सूची केवल सामान्य मार्गदर्शन के लिए है और योजना के निर्देशों का अध्ययन करना महत्वपूर्ण है।

Leave a Comment